Website hit counter 170405



IFFCO's Golden Jubilee Celebration
3rd November 2016 to 3rd November 2017

Toll Free Helpline Number : 1800 103 1967









Latest News

  • मेरठ में किसानों को बताया की सभी इफको के डिजीटल प्लेटफार्म iffcobazar.in से जोड जायें।हम भारत को India से जोड़ेंगे।

  • इफको ने नये डिजीटल भारत की नींव रखी है। हर किसान को, भारत के स्वाभिमान को आगे बढ़ाना है। मिट्टी की जान, किसान की शान है इफको।

  • मेरठ में किसानों से कहा की इफको एक एसी सोच है जिसका उद्देश्य किसानों को अधिक से अधिक फ़ायदा देना। उनको मज़बूत करना।

  • इफको स्वर्ण जयंती किसान सहकारी सम्मेलन मेरठ में आये हुऐ सभी किसानों को बताया की इफको हर क़दम किसान के साथ है।

  • इफको स्वर्ण जयंती किसान सहकारी सम्मेलन मेरठ में लगभग 1500 किसानों को संबोधित किया। इफको हर क़दम किसान के साथ।

  • मेरठ में इफको के कार्यकारी निदेशक,विपणन श्री yogendra ने किसानों को इफको के नये उत्पादों के बारे में जानकारी दी।

  • मेरठ में आई हमारी महिला किसान व सहकारी बहनों से मिला। इफको परिवार का एक अहम हिस्सा जिसे सदा प्राथमिकता दी जाती है।

  • मेरठ में दूर दराज़ से आये हऐ हर एक किसान व सहकारी भाई से मिला।सभी को सुनकर अच्छा लगा। सभी ने अपने विचार रखे।

  • मेरठ में आये हुऐ किसान भाईयों और सहकारी बंधुओं से मिला। सभी ने मिलकर इफको को पचास वर्ष पूरा होने की दी बधाई।

  • मेरठ के कार्यक्रम में किसान भाईयों व बहनों को मुफ़्त IFFCO__TOKIO की नई बीमा पौलीसी भी प्रदान की।

  • किसानों के लिये यहाँ इफको ने कैशलेस डिजिटल प्रणाली,मोबाईल बैंकिंग का कैंप भी लगाया।

  • मेरठ के इफको स्वर्ण जयंती कार्यक्रम में किसानों व सहकारी भाईयों के लिये मुफ़्त स्वास्थ्य कैंप लगाया गया।

  • मेरठ में इफको स्वर्ण जयंती किसान सहकारी सम्मेलन व कृषि प्रदर्शनी का उद्घाटन किया। यहाँ किसानों के लिये एक जगह बहुत कुछ।

  • इफको किसान व सहकारिता जनयात्रा का 124वां पड़ाव मेरठ है। Meerut is 124th destination of IFFCO farmer & cooperative meet .

  • IFFCO always give priority & supports ruralwomen to do more. They play immense role in agriculture & cooperatives. MahilaKisanDiwas

  • Various dances of India were the main attraction of cultural program at IFFCO Paradeep unit during celebrations of 50yearsofIFFCO.

  • A group of IFFCO employees & their families together performed a group traditional song on the occasion of celebrations of 50yearsofIFFCO.

  • At IFFCO we always promote talent among our employees & their children. In Paradeep also, many showcased their talent of creativity.

  • इफको में हम कला एंव संस्कृति को भी महत्व देते हैं।पारादीप में संबोधित करते हुए कहा की सभी को साथ मिलकर इफको को नई ऊचांईयों पर ले जाना है।

  • इफको पारादीप में स्वर्ण जयंती के चलते एक समारोह हुआ जिसका उद्घाटन श्री बलविंदर सिंह नकई जी ने किया।कला-संस्कृति का प्रदर्शन।

  • बैरहामपुर में किसानों को बताया की सभी इफको के डिजीटल प्लेटफार्म iffcobazar.in से जोड जायें। हम भारत को India से जोड़ेंगे।

  • इफको ने नये डिजीटल भारत की नींव रखी है।हर किसान को, भारत के स्वाभिमान को आगे बढ़ाना है। मिट्टी की जान, किसान की शान है इफको।

  • बैरहामपुर में किसानों से कहा की इफको एक एसी सोच है जिसका उद्देश्य किसानों को अधिक से अधिक फ़ायदा देना। उनको मज़बूत करना।

  • बैरहामपुर में सहकारिता व कृषि से जुड़े मुख्य अतिथियों व किसान भाईयों ने भी अपने विचार व्यक्त किये। इफको को बधाई दी।

  • बैरहामपुर में इफको निदेशक श्री पाधी जी ने कहा की इफको द्वारा किसानों के लिये हर क्षेत्र में बहुत से कार्य हो रहे हैं।

  • बैरामपुर में युवा कलाकारों ने उड़िया लोक कला पर आधारित बहुत ही मनमोहक रंगा-रंग कार्यक्रम प्रस्तुत किये। बहुत सराहनीय कला।

  • इफको के कार्यकारी निदेशक,विपणन श्री yogendra ने किसानों को इफको के नये उत्पादों के बारे में जानकारी दी।

  • बैरहामपुर में दूर दराज़ से आयी हुई हर एक महिला किसान व सहकारी भाई से मिला। सभी को सुनकर अच्छा लगा।सभी ने अपनी बात रखी।

  • बैरहामपुर में आई सभी महिला किसान व सहकारी बहनों से मिला। इफको परिवार का एक अहम हिस्सा हैं जिन्हें प्राथमिकता दी जाती है।

  • बैरहामपुर में आये हुऐ किसान भाईयों और सहकारी बंधुओं से मिला। सभी ने मिलकर इफको को पचास वर्ष पूरा होने की दी बधाई।

  • बैरहामपुर में इफको स्वर्ण जयंती किसान सहकारी सम्मेलन का उद्घाटन किया। बहुत दूर दूर से किसान व सहकारी भाई पहुँचे हैं।

  • इफको किसान व सहकारिता जनयात्रा का 123वां पड़ाव बैरहामपुर रहा। Berhampur Odisha was 123rd destination of IFFCO meet .

  • पुरी में किसानों को बताया की सभी इफको के डिजीटल प्लेटफार्म iffcobazar.in से जोड जायें। हम भारत को India से जोड़ेंगे।

  • इफको एक नये डिजीटल भारत की नींव रख रहा है। हर किसान को,भारत के स्वाभिमान को आगे बढ़ायें।मिट्टी की जान, किसान की शान है इफको।

  • पुरी में किसानों से कहा की इफको एक एसी सोच है जिसका उद्देश्य किसानों को अधिक से अधिक फ़ायदा देना। किसानों को मज़बूत करना।

  • पुरी के कार्यक्रम में युवा कलाकारों ने उड़िया लोक कला पर आधारित बहुत ही मनमोहक कार्यक्रम प्रस्तुत किये। बहुत सराहनीय कला।

  • इफको स्वर्ण जयंती किसान सहकारी सम्मेलन पुरी में लगभग 1000 किसानों को संबोधित किया। इफको हर क़दम किसान के साथ।

  • पुरी में इफको के कार्यकारी निदेशक,विपणन श्री@iffcoyogendra ने किसानों को इफको के नये उत्पादों के बारे में जानकारी दी।

  • पुरी में दूर दराज़ से आयी हुई हर एक महिला किसान व सहकारी भाईयों से मिला। सभी को सुनकर अच्छा लगा।सभी ने अपने विचार रखे।

  • पुरी में आई हमारी सभी महिला किसान व सहकारी बहनों से मिला। इफको परिवार का एक अहम हिस्सा जिसे सदा प्राथमिकता दी जाती है।

  • पुरी में आये हुऐ किसान भाईयों और सहकारी बंधुओं से मिला। सभी ने मिलकर इफको को पचास वर्ष पूरा होने की दी बधाई।

  • पुरी के इफको स्वर्ण जयंती कार्यक्रम में किसानों व सहकारी भाईयों के लिये मुफ़्त स्वास्थ्य कैंप लगाया गया।

  • पुरी में इफको स्वर्ण जयंती के उपलक्ष्य पर कृषि प्रदर्शनी में इफको की बहुत सी किसान सेवाओं के बारे में किसानों को बताया।

  • पुरी में इफको स्वर्ण जयंती किसान सहकारी सम्मेलन व कृषि प्रदर्शनी का उद्घाटन किया।लाये हैं किसानों के लिये एक जगह बहुत कुछ।

  • इफको किसान व सहकारिता जनयात्रा का 122वां पड़ाव पुरी है। Puri is 122nd destination of IFFCO farmer & cooperative meet .

  • Live Webcast / Last Event





    MANAGING DIRECTORS MESSAGE FOR GOLDEN JUBILEE

    Dear Friends,

    We all are aware that at IFFCO will be completing 50 years of its inception on 3rd November 2017. The great grand 5 decades of its successful existence have seen various societal, political, geographical and technical changes. Moreover, we have successfully connected ourselves to nearly every village of the country and in return gained the faith, love and trust of the farmers of the country, which is a unique connection in itself. It is a connection of Heart and Soul. Hence; it is very important to showcase the real experience, strength, love, affection and moreover that soulful connection with the farmer across the country. Friends, Our IFFCO has made mark not within the country but also on the global front as well. Now after 50 years of it’s inception it is very important to collate everything and present the same in a form of cultural bouquet for posterity. Broadly the Milestones, Historic Moments, Cultural Heritage, Leaders of IFFCO, Messages & Speeches from various leaders across the world along with participation of cooperators and farmers of the country. The confluence of all these activities will come in form of celebrations of Golden Jubilee of IFFCO.

    The Golden Jubilee Celebrations will start on Thursday; 3rd November 2016 from Kalol & will travel across country to all plants & all area offices to have close interaction with farmers & cooperators of our country. The celebrations will not only touch the agriculture and cooperation side but also the art and culture of the country as IFFCO has always worked for promoting the same.

    This multi-media portal will keep everyone updated with the recent ongoing activities related to the Golden Jubilee Celebrations at IFFCO. It will also enable everyone to share pictures & videos on other social media platforms. It also showcases the strength of our IT & Systems team across country.

    (U S Awasthi)
    प्रिय साथियो,

    हम सभी जानते हैं कि 3 नवम्बर 2017 को इफको अपनी स्थापना के 50 वर्ष पूरे कर रहा है। अपने 5 दशक के शानदार सफर में इफको ने अनेक सामाजिक, राजनीतिक, भौगोलिक और तकनीकी परिवर्तन देखे हैं। देश के लगभग हरेक गांव से जुड़कर हमने किसानों का भरोसा और प्यार पाया है। आत्मा और हृदय का यह संबंध अपने आप में अद्भुत है। ऐसे में देश के किसानों की शक्ति, उनके साथ हमारे अनुभव और आत्मीय संबंध को जाहिर करना जरूरी है। मित्रो, इफको ने देश में ही नहीं, पूरे विश्व में अपनी छाप छोड़ी है। इन 50 सालों के सफर की उपलब्धियों को एक सांस्कृतिक गुलदस्ते में संजोकर भावी पीढ़ी को सौंपना जरूरी है। विशेषरूप से ऐतिहासिक क्षण, सांस्कृतिक विरासत, सफल नेतृत्व, अन्तरराष्ट्रीय नेताओं के सन्देश तथा देश के किसानों और सहकारी बंधुओं की भागीदारी के बारे में बताना आवश्यक है। इफको के स्वर्ण जयन्ती महोत्सव में इन सभी गतिविधियों की झलक मिलेगी।

    स्वर्ण जयन्ती महोत्सव 3 नवम्बर, 2016, गुरुवार को कलोल से शुरू होकर सभी संयंत्रों, क्षेत्रीय कार्यालयों सहित पूरे देश में मनाया जाएगा। इस महोत्सव में देश के किसानों और सहकारी बंधुओं से संवाद करते हुए कला और संस्कृति पर भी जोर दिया जाएगा, जिसके लिए इफको सदैव समर्पित रहा है।

    यह मल्डी मीडिया पोर्टल महोत्सव की विभिन्न गतिविधियों से सभी को जोडे़ रखेगा। इसके माध्यम से सभी लोग अन्य सोशल मीडिया साइटों पर फोटो और वीडियो शेयर कर सकेंगे। इससे हमें पूरे देश के सामने अपनी सूचना प्रौद्योगिकी और सिस्टम टीम की क्षमता को प्रदर्शित करने का मौका मिलेगा।


    (उदय शंकर अवस्थी)